Headline
अमित शाह-जेपी नड्डा ने मतदाताओं से भारी संख्या में वोट करने की अपील की
लोकसभा चुनाव 2024 : जिन 102 सीटों पर हो रही है वोटिंग, जाने कैसा रहा था 2019 में उनका नतीजा
प्रधानमंत्री मोदी ने अमरोहा की जनसभा में कहा- इंडी गठबंधन राम और कृष्ण विरोधी
दूसरा चरण: पर्यवेक्षकों के साथ कॉन्फ्रेंस कर चुनाव आयोग ने दिए निर्देश
आम चुनाव के पहले चरण में 102 सीटों पर मतदान की तैयारी पूरी, शुक्रवार सुबह सात बजे से मतदान
कुतुब मीनार का दीदार करने भारी संख्या में पहुंचे पर्यटक, फ्री टिकट का जमकर उठाया लुत्फ
संविधान बदलने और वोट का अधिकार छीनने के लिए मोदी मांग रहे 400 सीटें : आप
मनीष सिसोदिया की रिहाई पर ग्रहण, न्यायिक हिरासत 26 अप्रैल तक बढ़ी
केजरीवाल ‘टाइप 2’ मधुमेह होने के बावजूद आम और मिठाई खा रहे: ईडी ने अदालत से कहा

IPL 2023 : वानखेड़े में सूर्यकुमार यादव की आतिशी पारी, मुंबई सात विकेट से जीती

मुंबई, 10 मई : मुंबई इंडियन्स ने सूर्यकुमार यादव (35 गेंद, 83 रन) और नेहाल वढेरा (34 गेंद, 52 रन) के आतिशी अर्द्धशतकों से मंगलवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) को छह विकेट से रौंद दिया। आरसीबी ने फाफ डु प्लेसिस (41 गेंद, 65 रन) और ग्लेन मैक्सवेल (33 गेंद, 68 रन) के अर्द्धशतकों की मदद से मुंबई के सामने 200 रन का विशाल लक्ष्य रखा, लेकिन सूर्यकुमार और वढेरा की जोड़ी ने 16.3 ओवर में ही मुंबई को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। मैक्सवेल-डु प्लेसिस ने आपस में 120 रन जोड़कर आरसीबी को मजबूत स्थिति में पहुंचाया था, लेकिन 15वें ओवर तक दोनों के आउट होने के बाद दिनेश कार्तिक (18 गेंद, 30 रन) भी टीम को 200 रन के पार नहीं ले जा सके।

सलामी बल्लेबाज ईशान किशन ने 21 गेंद पर 42 रन की पारी खेलकर मुंबई को विस्फोटक शुरुआत दिलाई जिसने आने वाले बल्लेबाजों के लिये काम आसान कर दिया। किशन का विकेट गिरने के बाद सूर्यकुमार ने तूफानी बल्लेबाजी करते हुए वढेरा के साथ 140 रन की नाबाद साझेदारी कर मुंबई को जीत के करीब पहुंचा दिया। मुंबई जब जीत से आठ रन दूर थी तब सूर्यकुमार और टिम डेविड लगातार गेंदों पर आउट हो गये, लेकिन वढेरा ने 17वें ओवर में छक्का जड़कर अपना अर्द्धशतक भी पूरा किया और मुंबई को जीत भी दिलाई। मुंबई (12 अंक) इस जीत के साथ अंक तालिका में तीसरे स्थान पर आ गयी है, जबकि इस बड़ी हार के बाद आरसीबी (10 अंक) सातवें स्थान पर चली गयी है।

आरसीबी ने टॉस हारकर बल्लेबाजी करते हुए विराट कोहली और अनुज रावत के विकेट 16 रन पर ही गंवा दिये। डु प्लेसिस को पहले ओवर में जीवनदान मिला और उन्होंने इसका फायदा उठाकर मैक्सवेल के साथ ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए पावरप्ले में 56 रन जोड़ लिये। मैक्सवेल ने इस साझेदारी में अग्रणी भूमिका निभाते हुए 25 गेंदों में अपना अर्द्धशतक पूरा किया, जबकि डु प्लेसिस ने भी 30 गेंद पर पचासा जड़कर कुछ देर में गति पकड़ ली।

इस साझेदारी के आगे मुंबई के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज पीयूष चावला भी बेअसर नज़र आये और उन्होंने अपने चार ओवर 41 रन देकर बिना किसी विकेट के समाप्त किये। मैक्सवेल-डु प्लेसिस ने तीसरे विकेट के लिये कुल 120 रन की साझेदारी की, जिसे जेसन बेहरेनडॉर्फ ने 13वें ओवर में मैक्सवेल को आउट करके तोड़ा। मैक्सवेल ने 33 गेंद पर आठ चौकों और चार छक्कों की मदद से 68 रन बनाकर आरसीबी को मजबूत स्थिति में डाल दिया, हालांकि अगले दो ओवरों में महिपाल लोमरोर और डु प्लेसिस के विकेट गिरने से पारी धीमी पड़ गयी। डु प्लेसिस 41 गेंद पर पांच चौकों और तीन छक्कों के साथ 65 रन बनाकर आउट हुए, जबकि पिछले मैच के अर्द्धशतक-वीर लोमरोर एक रन का योगदान ही दे सके।

एक समय पर लग रहा था कि आरसीबी मुंबई के सामने 210-220 रन का लक्ष्य रखेगी। कार्तिक ने 18वें ओवर में कुमार कार्तिकेय के खिलाफ 15 रन भी जोड़े, लेकिन जॉर्डन ने 19वें ओवर में मात्र आठ रन देते हुए कार्तिक का बहुमूल्य विकेट लिया। युवा गेंदबाद आकाश मधवल ने आखिरी ओवर में सिर्फ छह रन देते हुए आरसीबी को 199/6 के स्कोर पर रोक दिया। बेहरेनडॉर्फ ने चार ओवर में 36 रन देकर सर्वाधिक तीन विकेट चटकाये, जबकि कैमरन ग्रीन (दो ओवर, 15 रन) और कार्तिकेय (चार ओवर, 35 रन) को एक-एक सफलता हासिल हुई।

किशन ने पहली गेंद से ही आक्रामकता दिखाते हुए मुंबई को शानदार शुरुआत दिलाई। कप्तान रोहित शर्मा की असफलता के बावजूद किशन ने उनके साथ पहले विकेट के लिये 51 रन जोड़े। रोहित आठ गेंदों पर सात रन ही बना सके, लेकिन किशन ने 21 गेंद पर चार चौकों और चार छक्कों के साथ 42 रन बनाये। वानिंदू हसरंगा ने पांचवें ओवर में दोनों को पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। किशन का विकेट लेकर हालांकि आरसीबी को क्षणिक राहत ही मिल सकी। वढेरा ने अगले ही ओवर में छक्का जड़कर अपने हाथ खोले, जबकि सूर्यकुमार ने अगले ओवर में चौका लगाया। साझेदारी पनपती देख कप्तान डु प्लेसिस ने गेंद हसरंगा को सौंपी लेकिन सूर्यकुमार और वढेरा ने उन्हें भी एक-एक छक्का जड़कर 11वें ओवर में 15 रन जोड़ लिये।

इस जोड़ी के पिच पर पांव जमा लेन के बाद मुंबई की पारी कहीं नहीं रुकी। सूर्यकुमार ने 26 गेंद पर अपना अर्द्धशतक पूरा करने के बाद पारी की रफ्तार बढ़ा दी और आउट होने से पहले 35 गेंद पर सात चौकों और छह छक्कों के साथ 83 रन बनाये। सूर्यकुमार ने वढेरा के साथ 70 गेंद पर 140 रन की साझेदारी की जिसने आरसीबी की जीत की सभी उम्मीदें समाप्त कर दीं। पारी के 16वें ओवर में सूर्यकुमार और टिम डेविड लगातार गेंदों पर आउट हो गये, लेकिन वढेरा ने अगले ओवर में छक्का लगाकर मुंबई को जीत दिलाई। वह 34 गेंद पर चार चौकों और तीन छक्कों के साथ 52 रन बनाकर नाबाद रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top