Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

सारण:अतिक्रमण निर्माण सामग्री चोरी रंगदारी मांगने व गाली गलौज मामले में, 9 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज

छपरा, 06 अगस्त, (संवाददाता -माें अशरफ): सारण जिले के गरखा प्रखंड के बाजितपुर पंचायत के मुखिया संपत राम राही ने कचरा अवशिष्ट भवन पर अतिक्रमण सामग्री चोरी रंगदारी मांगने व गाली-गलौज को लेकर बाजीतपुर पंचायत के (1) उप मुखिया कृष्णा देवी के पुत्र जितेंद्र कुमार सिंह उर्फ काजू सिंह (2) वार्ड सदस्य की पति राजू साह (3) और वार्ड सदस्य रहीम हुसैन (4) रंजीत राम (5) रफी अहमद पर आरोप लगाते हुए गरखा थाने मे प्राथमिकी दर्ज कराया है जिसका कांड संख्या 472/2023 दिनांक 2 अगस्त 2023 हैं।

यह संबंध रविवार को आज पूछे जाने पर सभी लोगों ने बताया की मुखिया द्वारा आवेश में आकर हम लोगों पर प्राथमिक की दर्ज कराई गई है जो आरोप लगाया जा रहा है वह बेबुनियाद है। इसको लेकर सारण एसपी डॉ गौरव मंगला से लिखित शिकायत 4 अगस्त 2023 को किया गया है।

इसी मामले में मुखिया ने गरखा प्रखंड के मौजा मैकी थाना नंबर 430 खाता नंबर 305 सर्वे नंबर 482 रकबा 3 कट्ठा 7 धुर भूमि पर SLW निर्माण हेतु भवन बनाया जा रहा है जिसको लेकर गरखा सीओ से अनापत्ति प्रमाण पत्र पत्रांक 144 दिनांक 13 फरवरी 2023 को प्राप्त हुआ है लेकिन मैकी गांव निवासी (6) समसुद्दीन अंसारी के पुत्र अनवर अंसारी (7) उनकी पत्नी सकीना खातून (8)और पुत्र सलमान अंसारी (9) अरमान अंसारी द्वारा दीवाल के ऊपर बास लगाकर तिरपाल से ढक कर उसमें टेंट हाउस का सामान रखकर बोर्ड भी लगा दिया गया है।

इस संबंध में पूछे जाने पर अनवर अंसारी का कहना है कि जिस भूमि पर मुखिया द्वारा निर्माण कराया जा रहा है उस भूमि को मेरे पिताजी द्वारा लगभग 30 वर्षों पूर्व रजिस्ट्री कराया गया था और जमाबंदी चालू करने के लिए सीओ के पास ऑनलाइन आवेदन किया गया है जो आज तक पेंडिंग है।इस संबंध में गरखा सीओ मोहम्मद जौवाद आलम ने बताया कि विवादित भूमि गैरमजरूआ है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top