Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

राजस्थान में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार के मुद्दे पर भाजपा सांसदों का संसद भवन परिसर में प्रदर्शन

नई दिल्ली, 24 जुलाई : राजस्थान में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अत्याचार के आरोपों को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों ने सोमवार को संसद परिसर में प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली राज्य सरकार को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की।

भाजपा शासित मणिपुर में जातीय हिंसा को लेकर संसद परिसर में 26 विपक्षी दलों के गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के प्रदर्शन से पहले, राजस्थान सरकार के खिलाफ किए गए विरोध प्रदर्शन में भाजपा की महिला सांसद सबसे आगे थीं।

हाथों में तख्तियां लिए और नारे लगाते हुए भाजपा सांसदों ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन किया और राजस्थान सरकार से राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर ‘जागने’ का आग्रह किया।

उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल से लोकसभा सदस्य माला राज्यलक्ष्मी ने कहा, ”हम राजस्थान में भ्रष्टाचार और अत्याचार के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए यहां एकत्र हुए हैं।”

राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष चंद्र प्रकाश जोशी ने मांग की कि राजस्थान के मुख्यमंत्री को राज्य में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों के आरोपों पर ‘पद छोड़ देना चाहिए’।

जोशी ने कहा, ”राजस्थान का एक गौरवशाली इतिहास रहा है, लेकिन पिछले तीन वर्षों में यह महिलाओं, विशेष रूप से दलितों और गरीबों के खिलाफ अत्याचार में नंबर एक राज्य के रूप में उभरा है।”

जोशी ने दावा किया कि राजस्थान में बलात्कार के बाद एक लड़की की हत्या किए जाने, एंबुलेंस के अंदर महिलाओं के खिलाफ अत्याचार होने और पुलिस अधिकारियों द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने के लिए रिश्वत मांगने की घटनाएं हुई हैं।

उन्होंने कहा, ”राजस्थान सरकार कानून-व्यवस्था बनाए रखने में असमर्थ रही है। राजस्थान सरकार को तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top