Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

मुख्यमंत्री ने 42 ईवी चार्जिंग स्टेशन का किया उद्घाटन

नई दिल्ली, 27 जून: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में प्रदूषण को कम करने और इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 42 और ईवी चार्जिंग स्टेशनों का उद्घाटन किया।

दिल्ली में अब 53 लोकेशन पर चार्जिंग स्टेशन स्थापित हो गए हैं। जहां 4,646 चार्जिंग पॉइंट और 250 बैट्री स्वैपिंग स्टेशन हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जीटीबी नगर मेट्रो स्टेशन पर आयोजित ईवी चार्जिंग स्टेशन के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि आज दिल्ली में 42 नए ईवी चार्जिंग स्टेशन चालू किए गए। कुछ महीने पहले दिल्ली ट्रांसको लिमिटेड (डीटीएल) की तरफ से 11 स्टेशन शुरू किए गए थे। अब दिल्ली में कुल 53 ईवी चार्जिंग स्टेशन चालू हो गए हैं।

उन्होंने कहा कि दिल्ली इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी काफी तेजी से आगे बढ़ रही है। दिल्ली में प्रदूषण को लेकर काफी समस्या रहती है। जबसे हमारी सरकार आई है, तब से लेकर अब तक दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, पानी कई क्षेत्रों में काफी विकास हुआ है। इसके बावजूद प्रदूषण एक ऐसा क्षेत्र था, जिसका समाधान करना मुश्किल था, क्योंकि हवा में प्रदूषण काफी अधिक था। लोग कहते थे कि सीएम इसका समाधान कीजिए। आज यह बताते हुए मुझे खुशी हो रही है कि प्रदूषण को कम करने के लिए “आप” की सरकार ने दिल्ली के 2 करोड़ लोगों के साथ मिलकर जितने भी कदम उठाए हैं, अब उसका फल मिलने लगा है। इस बात को खुद प्रदूषण के आंकड़े साबित करते हैं। 2014 के मुकाबले दिल्ली के अंदर हवा का प्रदूषण का स्तर पीएम 10 और पीएम 2.5 अब 30 फीसद कम हुआ है। पहले दिल्ली में सालभर में ऐसे दिन अधिक होते थे, जब प्रदूषण का स्तर बहुत ज्यादा होता था और प्रदूषण खतरनाक श्रेणी में चला जाता था। मगर अब ऐसे दिनों की संख्या कम हो गई है और अब गिने-चुने दिन ही ऐसी स्थिति होती है। अमूमन पूरे साल ही दिल्ली की हवा की स्थिति अच्छी रहने लगी है।

केजरीवाल ने कहा कि आज दिल्ली के दो करोड़ लोगों ने ”आप” की सरकार के साथ मिलकर जो सफलता हासिल की है, उसकी वजह से अब दिल्ली को देश की ईवी राजधानी माना जाने लगा है। आज देश के बाकी राज्यों की तुलना में दिल्ली में सबसे ज्यादा इलेक्ट्रिक वाहन खरीदे जा रहे हैं। यहां तक कि नीति आयोग ने भी इस बात को स्वीकारा है कि दिल्ली की इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी देश की सबसे अच्छी पॉलिसी है और बाकी राज्यों को भी इसका अनुसरण करना चाहिए।

दिल्ली में 24 घंटे फ्री बिजली आती है, जबकि यूपी-हरियाणा में पावर कट लग रहे हैंः अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल ने आगे कहा कि एक-एक कर दिल्ली का हर क्षेत्र के अंदर नाम हो रहा है। पहले दिल्ली में अच्छे-अच्छे स्कूल बने और शिक्षा के क्षेत्र में हमारा नाम हुआ। फिर मोहल्ला क्लीनिक बने और स्वास्थ्य में नाम हुआ। इसके बाद दिल्ली में लोगों को 24 घंटे मुफ्त बिजली मिलनी शुरू हुई और यहां भी दिल्ली का नाम हुआ। दिल्ली के सटे राज्यों उत्तर प्रदेश और हरियाणा में चले जाएं तो नोएडा और गुरुग्राम जैसे शहरों में पावर कट हो रहे हैं मगर दिल्ली में ऐसी स्थिति नहीं है। दिल्ली में जनता को 24 घंटे मुफ्त बिजली दी जाती है।

इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री आतिशी ने कहा कि दिल्ली में रहने वाले लोग अक्सर प्रदूषण से परेशान रहते हैं। खासकर साल के कुछ महीने ऐसे आते हैं, जब प्रदूषण बढ़ जाता है और पूरे देश में यह चर्चा का विषय बन जाता है कि दिल्ली का प्रदूषण स्तर बढ़ गया। इसको ध्यान में रखते हुए कई साल से दिल्ली सरकार निरंतर प्रयास कर रही है। आज पूरे देश में कुल बिकने वाले वाहनों में से इलेक्ट्रिक व्हीकल की खरीद 7 से 8 फीसद है, तो दिल्ली में 12 से 14 फीसद है, जो देश भर से दुगनी है।

आतिशी ने कहा कि अगर कोई भी नागरिक अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल को चार्ज करेंगे तो वो 7 पैसे प्रति किलोमीटर पर अपना 2 व्हीलर चला सकते है। सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली सरकार ने प्रदूषण के खिलाफ लड़ाई में इलेक्ट्रिक व्हीकल की प्रगतिशील तरीके से शुरुआत की है। इस पॉलिसी की लगातार निगरानी होती है और इसी की वजह से आज हम इतनी उपलब्धियों को हासिल कर सके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top