Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

मुख्यमंत्री धामी ने की सिलक्यारा निर्माणाधीन सुरंग में फंसे श्रमिकों से बात, जल्द बाहर निकालने का दिया भरोसा

उत्तरकाशी, 23 नवंबर: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तरकाशी की सिलक्यारा में निर्माणाधीन टनल में फंसे श्रमिकों में गब्बर सिंह नेगी और सबा अहमद से बात कर उनका कुशलक्षेम जाना। मुख्यमंत्री ने उन्हें सकुशल बाहर निकालने के लिए तीव्र गति से चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन से भी अवगत कराया। दोनों लोगों ने सभी श्रमिक भाइयों के स्वस्थ और सुरक्षित होने की भी जानकारी दी।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि श्रमिक भाइयों को प्रधानमंत्री के द्वारा निरंतर उनकी वस्तुस्थिति के बारे में जानकारी लेने और बचाव कार्यों की मॉनिटरिंग किए जाने के बारे में भी अवगत कराया। उन्होंने कहा कि बचाव कार्य सही दिशा में संचालित है और शीघ्र ही सभी श्रमिक भाई को सुरक्षित बाहर आकर अपने परिजनों के साथ होने का भरोसा दिया।

इस मौके पर केन्द्रीय राज्य मंत्री जरनल वीके सिंह, प्रधानमंत्री कार्यालय के पूर्व सलाहकार भास्कर खुल्बे, जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण, गंगोत्री क्षेत्र के विधायक सुरेश चौहान,नोडल अधिकारी डा.नीरज खैरवाल, डीएम अभिषेक रुहेला, पुलिस अधीक्षक अर्पण यदुवंशी सहित रेस्क्यू टीम मौजूद हैं।

सीएम धामी ने किया बाबा बौखनाग से प्रार्थना

सिल्क्यारा निर्माणाधीन टनल में गुरुवार को दूसरी बार रेस्क्यू ऑपरेशन को धार देने पहुंचे सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने श्रमिकों को सकुशल बाहर निकालने के लिए स्थानीय देवता बाबा बौखनाग से प्रार्थना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top