Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

मनीष सिसोदिया के बेल ख़ारिज होने का फ़ैसला सुनवाई के बिलकुल विपरीत : आतिशी

नई दिल्ली, 30 अक्टूबर: पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के बेल ख़ारिज होने का फ़ैसला सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के बिलकुल विपरीत है। सुप्रीम कोर्ट ने ईडी से बार-बार ये सवाल पूछा कि, आपके पास मनीष सिसोदिया से जुड़ी हुई मनी ट्रेल कहा है?

ईडी इसे साबित न कर सकी। अगर ईडी मनीष सिसोदिया के पास पैसे पहुंचते हुए नहीं दिखा सकती तो मनी लौंड्रिंग और पीएमएलए लगने का सवाल कैसे पैदा होता है?ईडी को अपनी तीखी टिप्पणियों के बावजूद कोर्ट ने आज विपरीत ऑर्डर दिया और मनीष सिसोदिया को बेल नहीं दी। आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता व दिल्ली कैबिनेट मंत्री आतिशी ने ये बातें सोमवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि, सुप्रीम कोर्ट में जब मनीष सिसोदिया की बेल का केस सुना जा रहा था, तब सुप्रीम कोर्ट ने ईडी पर काफ़ी तीखे सवाल और टिप्पणियां की। सुप्रीम कोर्ट ने ईडी से बार-बार ये सवाल पूछा कि, आपके पास मनीष सिसोदिया से जुड़ी हुई मनी ट्रेल कहा है? क्या मनीष सिसोदिया के पास पैसा आया, उनके परिवार के पास पैसा आया या उनसे जुड़ी किसी कंपनी के पास पैसा आया?

सुप्रीम कोर्ट ने बार-बार ये कहा कि, अगर ईडी मनीष सिसोदिया के पास पैसे पहुंचते हुए नहीं दिखा सकती तो मनी लौंड्रिंग और पीएमएलए लगने का सवाल कैसे पैदा होता है। सुप्रीम कोर्ट ने सवाल भी पूछा कि ईडी का पूरा केस सिर्फ़ और सिर्फ़ एक अप्रूवर दिनेश अरोड़ा के बयान के आधार पर है। आतिशी ने कहा कि, सुनवाई के दौरान भी सुप्रीम कोर्ट में ये कहा गया कि, अप्रूवर तो स्वयं को बचाने के लिए कुछ भी कह सकता है। उसकी स्टेटमेंट पर कितना विश्वास किया जा सकता है।

आतिशी ने कहा कि, हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते है और सम्मानपूर्वक ये कहना चाहते है कि हम आज कोर्ट द्वारा दिए गए निर्णय से असहमत है और इसपर आगे क़ानूनी तौर पर क्या किया जा सकता है उसकी तलाश करेंगे। उन्होंने कहा कि, आम आई पार्टी एक ईमानदार पार्टी है। अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के नेतृत्व में शानदार तरीक़े से दिल्ली सरकार चली है। आज तक एक रुपये के भ्रष्टाचार में आम आदमी पार्टी का कोई भी नेता शामिल नहीं हुआ है। आम आदमी पार्टी ईमानदार थी, ईमानदार है और ईमानदार रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top