Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

मणिपुर में महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार पर लालू-ललन ने प्रधानमंत्री को घेरा, भाजपा ने दिखाया आईना

पटना, 20 जुलाई: मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र घुमाने के वायरल वीडियो को लेकर बिहार में भी सियासत गर्म है। राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने इस मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को घेरा है। इधर, भाजपा ने भी आईना दिखाया।

राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने ट्वीट कर कहा कि मणिपुर में लोकतंत्र, लोकलाज, विश्वास, संस्कृति, सौहार्द, संवाद और मानवता का सरेआम कत्ल हो रहा है। नफरत और हिंसा फैलाने वाली पार्टी के लोग कंबल ओढ़कर घी पी रहे हैं। इन लोगों को प्रेम, सौहार्द, इंसानियत, सामाजिक एकता एवं भारतीय सभ्यता से कोई लेना-देना नहीं है। मणिपुर में जो हो रहा है, वह शर्मनाक है।

जदयू के अध्यक्ष ललन सिंह ने ट्वीट कर कहा कि मणिपुर में डबल इंजन की सरकार की छत्रछाया में राज्य के बहुसंख्यक शोषित-वंचित और गरीब तबके को पैरों तले रौंदा जा रहा है। महिलाओं पर अत्याचार की सारी हदें लांघ दी गई हैं, फिर भी देश के 56 इंच सीने वाले तथाकथित शेर चुप बैठे हैं, आखिर क्यों? मणिपुर की घटना मानवता को शर्मसार करने वाली है। पता नहीं प्रधानमंत्री को मानवता के प्रति संवेदना है भी या नहीं! विदेशों में जाकर अपना जयकारा लगवाने वाले प्रधानमंत्री को देश में महिलाओं के साथ हो रहा घोर अत्याचार क्यों नहीं दिखता है ? उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार वाले राज्य में महिलाओं के साथ शर्मसार करने वाली इस घटना पर अब तो मौनव्रत तोड़िए साहब।

इधर, ललन सिंह के पूर्वाह्न 11.48 पर किए गए इस ट्वीट पर पलटवार करते हुए भाजपा के प्रवक्ता निखिल आनंद ने कटाक्ष करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूर्वाह्न 10.40 पर बयान देते हैं और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष 11.48 पर ट्वीट करते हैं। आनंद ने सवाल पूछा कि कहां ध्यान रहता है इनका। उन्होंने कहा कि अब आदत से लाचार अध्यक्ष को पान-गुटखा से फुर्सत मिले तब न। नीतीश कुमार ने पॉकेट की पार्टी का बागडोर वाकई में बोगस आदमी को सौंप दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top