Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

बिहार में लाठीचार्ज तानाशाही, निरंकुशता का उदाहरण: भाजपा

नई दिल्ली, 14 जुलाई : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बिहार के पटना में में शिक्षक भर्ती, नौकरी का वादा, भ्रष्टाचार और बिगड़ती कानून-व्यवस्था के मुद्दे को लेकर विधानसभा का घेराव करने जा रहे पार्टी कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठाचार्ज को आज़ाद भारत में तानाशाही एवं निरंकुशता का उदाहरण करार दिया है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने आज यहां पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “कल बहुत ही दुखद घटना घटी है, जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है। बिहार की राजधानी पटना की सड़कों पर प्रदेश के शिक्षक अभ्यर्थियों और किसानों के हक में भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा शांति मार्च किया गया। लेकिन पुलिस ने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर लाठी चार्ज किया और जहानाबाद जिले के भाजपा महामंत्री विजय कुमार सिंह की हत्या कर दी।

श्री राय ने कहा कि भाजपा ने बिहार के किसानों, शिक्षकों, मजदूरों और महिलाओं के हक के लिए बड़ी आहूति दी है। कल बिहार में भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं पर ऐसा लाठी चार्ज किया जैसा कि स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई में अंग्रेजों ने किया था। बिहार में जंगल राज 3 का आगमन हुआ है। बिहार में कल जो बर्बरता पूर्ण लाठी चार्ज किया गया, वह आजाद भारत में निरंकुशता और तानाशाह का एक बड़ा गवाह बनेगा।

उन्होंने कहा कि बिहार सरकार के कुशासन और गलत कामों से लोग गुस्से में हैं। कल पटना की सड़कों पर लोगों का गुस्सा देखने को मिला। लोकतंत्र में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करना लोगों का अधिकार है। लेकिन पटना में जो हुआ वह बेहद निंदनीय है। उन्होंने कहा, “शिक्षकों पर लाठी चार्ज, छात्रों पर लाठी चार्ज, महिलाओं पर लाठी चार्ज… यह दशार्ता है कि बिहार की नीतीश कुमार और तेजस्वी सरकार अंग्रेजों की तरह अपने विरोधियों को कुचलने की साजिश कर रही है।”

बिहार प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रह चुके श्री राय ने कहा कि जब आपातकाल में कांग्रेस लोकतंत्र की हत्या कर रही थी और लोकतंत्र को बचाने के लिए लोग संघर्ष कर रहे थे, तब सरकार ने जिस प्रकार से बर्बरता पूर्ण लाठियां चलवाई थीं, उसी प्रकार से कल बिहार में जनता के हक में आवाज उठाने पर भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर लाठियां चलाई गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top