Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

बिहार के सिवान में डेंगू का प्रकोप, मलिकान गांव में मामलों की संख्या 42 हुई

पटना, 16 सितंबर: भागलपुर और पटना के बाद, बिहार के सिवान जिले में डेंगू के मामले तेजी से फैल रहे हैं। जिले के एक गांव में 42 मरीज मच्छर जनित बीमारी से संक्रमित हैं।

मच्छर जनित बीमारियों का प्रकोप जिले के हुसैनगंज ब्लॉक के अंतर्गत मलिकान गांव में देखा गया है। अधिकारी ने बताया कि 10 दिन पहले डेंगू के 11 मरीज मिले थे और अब यह संख्या 42 पहुंच गई है। जिसमें पिछले 24 घंटे में सामने आए 24 पॉजिटिव केस भी शामिल हैं।

कॉमन हेल्थ सेंटर हुसैनगंज के प्रभारी डॉ माजोज कुमार ने कहा, “हम गांव में स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। बुखार या कमजोरी के लक्षण वाले मरीजों का तुरंत परीक्षण शुरू कर रहे हैं। हम उन्हें डॉक्टरों के निर्देशों का पालन करने की सलाह दे रहे हैं।”

मलिकान गांव के ग्रामीणों का दावा है कि 13 सितंबर को एक व्यक्ति गोरखपुर से डेंगू का इलाज कराकर लौटा था। उनकी मलिकान गांव में दुकान है। इसके बाद गांव में डेंगू का भयंकर प्रकोप हो गया।

इस बीच, राज्य स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को डेंगू के 250 मामलों का पता लगाया था। पिछले एक महीने में 1307 मरीजों सहित अब मामलों की संख्या बढ़कर 1,582 हो गई है। बिहार में सबसे ज्यादा प्रभावित जिला भागलपुर है। पटना, बेगुसराय, रोहतास समेत अन्य जिलों में भी डेंगू के मामले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top