Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

बयानबाजी में हीरो, काम करने में जीरो है भाजपा : राजीव रंजन

पटना, 28 अक्टूबर: जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय महासचिव राजीव रंजन ने आज कहा कि झूठ बोल-बोल कर और जनता को सपने दिखाने की राजनीतिक आदत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के तमाम नेताओं को बयानबहादुर बना दिया है।

श्री रंजन ने शनिवार को यहां कहा कि जनता से जुड़ा कोई काम भाजपा से नहीं होता है, लेकिन बाते बनाने में इनका कोई सानी नहीं है। चाहे किसानों की बात हो या महिलाओं अथवा आम आदमी की, हर मसले पर इनकी कथनी और करनी में अंतर स्पष्ट दिखायी देता है। उन्होंने कहा कि पूरी तरह प्रचार पर आश्रित इस पार्टी के नेता हर दिन कोई नया जुमला फैलाने की कोशिशों में लगे रहते हैं लेकिन सच्चाई देखें तो इनके अधिकांश वादे आज तक जमीन पर नहीं उतर पाए हैं। सिर्फ आंकड़ों की बाजीगरी के सहारे यह झूठ को सच साबित करने में लगे रहते हैं।

जदयू के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि इनके साढ़े नौ वर्षों में एक मात्र फायदा सिर्फ इनकी पार्टी और उसके पूंजीपति मित्रों को हुआ है, जहां आम लोग रोजमर्रा के खर्चे निकालने के लिए परेशान हैं वहीं भाजपा के मित्र पूंजीपतियों की संपत्ति में अरबों से खरबों में तब्दील होती जा रही है। साथ ही भाजपा के चुनावी फंड में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है। हर राज्य में उनके नये बने कार्यालयों की संख्या बढती ही जा रही है। दूसरी तरफ भाजपा नेता अभी भी क्रांति लाने का झूठ बोलते थक नहीं रहे। यह दिखाता है कि इनके नेता बयानबाजी में हीरो और काम करने में जीरो बन चुके हैं।

श्री रंजन ने भाजपा के वादे याद दिलाते हुए कहा कि इन्होंने वादा किया था कि वर्ष 2022 तक हर किसान की आमदनी दुगनी हो जायेगी, लेकिन हकीकत में इनके राज में किसानों की हालत और बदतर हो चुकी है। हालात यह है खेती के समय भी केंद्र सरकार द्वारा खाद उपलब्ध नहीं कराये जाने के कारण, बिहार में किसानों को यूरिया और अन्य जरूरी खादों के लिए जूझना पड़ रहा है। इसी तरह इन्होंने मध्य वर्ग के लोगों को भी आय बढ़ाने का सपना दिखाया था लेकिन बढ़ी मंहगाई के कारण उनका जीवन भी आज संकटों से गुजर रहा है। हर मुद्दे पर यह लोग केवल बढ़-चढ़ कर बयान देते हैं लेकिन धरातल पर हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं।

जदयू महासचिव ने भाजपा को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सीख लेने की सलाह देते हुए कहा कि हकीकत में भाजपा को मुख्यमंत्री श्री कुमार से सीखना चाहिए कि अपने कहे पर खरा कैसे उतरा जाता है, चाहे जातिगत गणना की बात हो या शराबबंदी की, उन्होंने तमाम कठिनाई आने के बाद भी जनता से किये अपने हर वादे को पूरा किया है। आज उन्हीं की बदौलत बिहार के हर गांव में सड़क, बिजली, पानी जैसी सुविधाएं पहुंच चुकी हैं। स्कूल जाने वाली लड़कियों की संख्या लगभग लड़कों के बराबर हो चुकी है। नीतीश जो कहते हैं उसे जरुर करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top