Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

प्रशांत किशोर ने कहा- देश ही नहीं बिहार की राजनीति में भी परिवारवाद हावी है

समस्तीपुर, 03 जुलाई: जाने-माने चुनावी रणनीतिकार एवं जन सुराज पदयात्रा के सूत्रधार प्रशांत किशोर ने आज कहा कि देश ही नहीं बिहार की राजनीति में भी परिवारवाद हावी है। किशोर ने सोमवार को समस्तीपुर जिले के पटोरी में पदयात्रा के क्रम में यूथ क्लब के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि कोई भी दल हो परिवारवाद से अछूता नहीं है। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के परिवारवाद का उदाहरण देते हुए कहा कि अभी देख लीजिए बिहार भाजपा के जो अध्यक्ष बने हैं उनके पिताजी पहले कांग्रेस के विधायक हुआ करते थे। फिर राजद के विधायक बने और फिर जनता दल यूनाईटेड ( जदयू) में विधायक हो गए।

नेता ने कहा कि परिवारवाद के इस चक्र को तोड़ना है तो आज नीचे से नए युवाओं को खड़ा करना होगा वरना बिहार में जितना भी चाहें कुछ कर लीजिए परिवारवाद आप समाप्त नहीं कर सकते। क्योंकि कभी लालू प्रसाद यादव पर गुस्सा करके भाजपा को जीता दीजिएगा कभी अन्य दलों को। उन्होंने कहा कि जन सुराज इसी परिवारवाद को तोड़ने के प्रयास में लगी है और इसी उद्वेश्य से पूरे प्रदेश मे जन सुराज द्वारा पदयात्रा चलाई जा रही है। कांग्रेस, राजद, जदयू और भाजपा समेत अन्य दलों की सूची बनाई जाए तो आपको पता चल जायेगा कि इन दलों मे साढ़े बारह सौ परिवार के सदस्य ही सांसद एवं विधायक बनते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top