Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

नर्सरी दाखिला : चिंतित न हो अभिभावक, माध्यमिक और प्राथमिक स्तर के स्कूलों में सीटें खाली

नई दिल्ली, 04 फरवरी: शैक्षणिक सत्र 2024-25 के लिए निजी स्कूलों में नर्सरी से लेकर पहली कक्षा की सामान्य सीटों पर दाखिला प्रक्रिया जारी है। बड़े नामचीन स्कूलों को छोड़कर छोटे स्कूलों में दाखिला के लिए सीट खाली पड़ी है। ऐसे में अभिभावकों को दाखिला के लिए ज्यादा निराश होने की जरूरत नहीं है। माध्यमिक और प्राथमिक स्तर तक के स्कूलों में दाखिला के विकल्प अभी भी खुले हैं। दिल्ली स्टेट पब्लिक स्कूल मैनेजमेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष आरसी जैन ने कहा कि उच्च माध्यमिक स्तर के 200 बड़े स्कूलों में दाखिला की ज्यादा मारामारी रहती है। दाखिला सूची में नाम न आने वाले बच्चों के अभिभावक ज्यादा चिंतित न हो। घर के आसपास के प्राथमिक और माध्यमिक स्तर के स्कूलों में दाखिला कराया जा सकता है। छोटे स्तर के स्कूलों में सीट खाली पड़ी है।

एक्शन कमेटी ऑफ अनएडेड रिकॉग्नाइज्ड प्राइवेट स्कूल के अध्यक्ष भरत अरोड़ा ने कहा कि अभिभावक नजदीक के स्कूल में बच्चे का दाखिला जरूर सुनिश्चित करें। दिल्ली के सभी निजी स्कूल बेहतर है। अच्छी शिक्षा दी जाती है। ऐसे में जहां पर भी दाखिला की संभावना हो वहां बच्चे का दाखिला जरूर करवाएं। वहीं, अफोर्डेबल प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के वरिष्ठ सलाहकार और दिलशाद गार्डन स्थित दिलशाद पब्लिक सेकेंडरी स्कूल के निदेशक मृदुल अवस्थी ने कहा कि दाखिला प्रक्रिया के बावजूद कई छोटे स्कूलों में नर्सरी कक्षा में सीट खाली है। अभिभावक नजदीक के स्कूल में बच्चे का दाखिला करवाएं। इससे बच्चा यातायात जाम और प्रदूषण की समस्या से भी बचेगा। बता दें कि स्कूल नर्सरी दाखिला को लेकर पहले और दूसरी सूची जारी कर चुके हैं। अभिभावक सूची संबंधी समस्या को छह फरवरी तक दूर कर सकते हैं। अगर स्कूल तीसरी सूची जारी करेंगे तो वह 21 फरवरी को होगी। जबकि आठ मार्च को दाखिला प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top