Headline
भोजपुरी अभिनेता पवन सिंह की मां ने भी काराकाट से भरा नामांकन
जानें ग्वालियर रियासत की राजमाता को: नेपाल राजघराने से था ताल्लुक, शादी के बाद किरण से बनीं माधवी राजे सिंधिया
ग्वालियर राजघराने की राजमाता माधवी का निधन, सीएम समेत अन्य नेताओं ने जताया दुख
अमीर और गरीब की लड़ाई है मौजूदा लोकसभा चुनाव : खड़गे
उच्चतम न्यायालय ने न्यूज़क्लिक प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ्तारी को अवैध करार दिया, अविलंब रिहा करने का आदेश
दिल्ली हाई कोर्ट ने सिसोदिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को दी अंबानी-अडाणी के यहां ईडी-सीबीआई को भेजने की चुनौती
मोदी के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान की पोल खोलेगी ‘आप’ : गोपाल राय
भारी मतदान के जरिये लोगों ने दिल्ली को दिया संदेश: महबूबा

दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ के बाद 1,000 से अधिक लोगों और 500 मवेशियों को बचाया गया

नई दिल्ली, 13 जुलाई : राष्ट्रीय राजधानी में यमुना नदी के खतरे के निशान को पार करने और बुधवार को 207.71 मीटर तक पहुंचने के बाद निचले इलाकों में भीषण बाढ़ का सामना करना पड़ रहा है, ऐसे में दिल्ली पुलिस, अन्य एजेंसियों के साथ मिलकर सफलतापूर्वक काम कर रही है। इस बीच 1,000 से अधिक लोगों और 500 से अधिक मवेशियों को बचाया गया। फंसे हुए लोगों का पता लगाने के लिए एक नाव में गश्त के दौरान, पुलिस ने एक पेड़ पर बैठे एक व्यक्ति को सुरक्षा की तलाश में देखा।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, जितेंद्र नाम का यह शख्स अपनी जान बचाने के लिए पिछले 22 घंटों से पेड़ पर बैठा था। वरिष्ठ अधिकारियों सहित दिल्ली पुलिस विभिन्न एजेंसियों के साथ बचाव प्रयासों के समन्वय में सक्रिय रूप से शामिल रही है। उनके कार्यों में सार्वजनिक घोषणाएं करना, फंसे हुए लोगों की पहचान करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करना और बचाव कार्यों के लिए नावों की व्यवस्था करना शामिल है।

नदी के किनारे घरों और बाजारों में रहने वाले हजारों लोगों को सुरक्षित क्षेत्रों में स्थानांतरित कर दिया गया है, क्योंकि उनके आसपास पानी भर गया है। पुलिस के मुताबिक, ऑपरेशन के दौरान 1,065 लोगों और 517 मवेशियों को बचाया गया। शाहदरा जिले में पांच मवेशियों को बचाया गया, जबकि उस्मानपुर में 190 लोगों और 100 मवेशियों को बचाया गया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “शास्त्री पार्क में 100 लोगों और 175 मवेशियों को बचाया गया, जबकि सोनिया विहार में पानी भरे इलाकों में फंसे 200 लोगों और 150 मवेशियों को निकाला गया।” अधिकारी ने कहा, “मयूर विहार इलाके में कुल 65 लोगों और 12 मवेशियों को बचाया गया, जबकि पांडव नगर इलाके से 450 लोगों और 50 मवेशियों को निकाला गया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top