Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

एनसीडब्ल्यू ने बिहार के पूर्णिया में गर्भवती महिला की हत्या की निंदा की

पटना, 05 अगस्त: राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने बिहार के पूर्णिया में सात महीने की गर्भवती महिला की हत्या पर चिंता व्यक्त की है।

अंगूरी बेगम को दहेज के लिए एक अगस्त को उसके ससुराल वालों ने कथित तौर पर पीट-पीटकर मार डाला था। आरोपी अभी फरार हैं।

“सात महीने की गर्भवती महिला को उसके ससुराल वालों ने दहेज के लिए मार डाला। एनसीडब्ल्यू ने अपने आधिकारिक बयान में कहा, हमने बिहार के डीजीपी से 7 दिनों के भीतर विस्तृत रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

मृतक के भाई मुन्ना आलम ने कहा, मेरी बहन की शादी आठ साल पहले रूपौली थाने के बेला गांव के मिल्लत खान से हुई थी। शादी के कुछ माह बाद ही उसके ससुराल वाले दहेज की मांग करने लगे। वे आए दिन उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। इसे देखते हुए गांव में पंचायत भी हुई। इसके बाद मामला जिला अदालत तक भी पहुंचा और सुलझ गया।

आलम ने कहा, “मंगलवार (1 अगस्त) को, उसके ससुराल वालों ने बताया कि अंगूरी मर गई है। हम तुरंत गांव पहुंचे, लेकिन उन्होंने शव सौंपने से इनकार कर दिया। जब हमने स्थानीय पुलिस को बुलाया, तो वे घर से भाग गए।”

संपर्क करने पर रूपौली थाने के एक अधिकारी ने बताया कि पूर्णिया मेडिकल कॉलेज में शव का पोस्टमाॅर्टम करा कर परिजनों को सौंप दिया गया है। आरोपी फरार हैं। उन्हें जल्द ही सलाखों के पीछे डाला जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top