Headline
भाजपा ने लोकसभा चुनावों का संकल्प पत्र ‘मोदी की गारंटी 2024’ जारी किया
मुर्मु, धनखड़ मोदी, बिड़ला, अन्य गणमान्य ने दी भीमराव अंबेडकर को श्रद्धांजलि
बिहार के एकमात्र पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी लड़ रहे हैं लोकसभा का चुनाव
पाकिस्तान में जीवन-यापन की लागत पूरे एशिया में सबसे अधिक: एडीबी
म्यांमा से दालों का आयात करने के लिए भुगतान तंत्र को सरल बनाया गया: सरकार
बिजली की मांग बढ़ने से सरकार ने सभी गैस आधारित संयंत्रों को दो माह चालू रखने को कहा
रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची सोने की कीमत, 10 ग्राम के लिए अब खर्च करने होंगे इतने रुपए
2024 के लोकसभा चुनाव में पांच भोजपुरी सितारे दिखायेंगे जलवा
फिल्म ’12वीं फेल’ ने तोड़ा ‘गदर’ के 23 सालों का रिकॉर्ड

ईस्ट इंडिया कंपनी, इंडियन मुजाहिदीन जैसे नामों का हवाला दे प्रधानमंत्री ने विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 25 जुलाई: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) को देश का अब तक का सबसे ‘दिशाहीन’ गठबंधन करार दिया और ईस्ट इंडिया कंपनी तथा इंडियन मुजाहिदीन जैसे नामों का हवाला देते हुए कहा कि केवल देश के नाम के इस्तेमाल से लोगों को गुमराह नहीं किया जा सकता। प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए यह बात कही।

केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने विपक्ष के व्यवहार का उल्लेख किया और कहा कि उसके व्यवहार से यह दिखाई पड़ता है कि उसने आने वाले कई वर्षों तक विपक्ष में रहने का निर्णय लिया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने बैठक के बाद संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा, ”उन्होंने (प्रधानमंत्री) एक बहुत बड़ी टिप्पणी की। इंडियन नेशनल कांग्रेस एक अंग्रेज ने बनायी थी। ईस्ट इंडिया कंपनी भी अंग्रेजों ने बनाई थी। आज कल लोग इंडियन मुजाहिद्दीन और इंडियन पीपुल्स फ्रंट भी नाम रखते हैं…तो चेहरे पर चेहरे चढ़ा लेते हैं, सच्चाई कुछ और है।”

भाजपा नेता रमेश बिधूड़ी ने प्रधानमंत्री के हवाले से कहा कि जो लोग देश को तोड़ना चाहते हैं, उनके पास भी ईस्ट इंडिया कंपनी और इंडियन मुजाहिदीन जैसे नाम हैं, लेकिन लोग इन हथकंडों से गुमराह नहीं होंगे।

जोशी के अनुसार, प्रधानमंत्री ने कहा, ”दुनिया भी सोचती है, भारत के लोग भी सोचते हैं कि यह शुरुआत है। इसलिए दुनिया भी इस सरकार के साथ, इस नेतृत्व के साथ आगे बढना चाहती है। इसलिए बहुत महत्वपूर्ण समझौते हुए है। विश्व में भारत की मान्यता बहुत बढ़ रही है। भारत के लिए प्रशंसनीय बात है कि दुनिया हमारे ऊपर विश्वास कर रही है।”

जोशी के अनुसार, मोदी ने कहा कि आजादी की 75 वीं वर्षगांठ में देश बदल चुका है क्योंकि 2014 में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने जब सत्ता संभाली थी तब भारतीय अर्थव्यवस्था दुनिया में 10वें नंबर पर थी और दूसरे कार्यकाल में यह पांचवें स्थान पर पहुंची है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राजग सरकार के तीसरे कार्यकाल में भारतीय अर्थव्यवस्था तीसरे नंबर पर पहुंचेगी।

जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने राजग की स्थापना के 25वें वर्ष का उल्लेख किया और कहा कि यह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की विरासत है। उनके मुताबिक मोदी ने इस वर्ष का जश्न माने को कहते हुए सांसदों से आह्वान किया कि इस संदर्भ में मुलाकात और बैठकों का सिलसिला आरंभ करें और विचारों का आदान-प्रदान करें।

जोशी ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने सांसदों से 15 अगस्त को हर घर तिरंगा अभियान चलाने और हर विधानसभा क्षेत्र में कार्यक्रम आयोजित करने का आह्वान किया है। बैठक की शुरुआत में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक मदन दास देवी और तीन दिवंगत सांसदों गिरीश बापट, रतनलाल कटारिया और हरद्वार दुबे को श्रद्धांजलि दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top