Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

ईडी-सीबीआई के सहारे काम रोक रहा केंद्र : केजरीवाल

-मुख्यमंत्री ने कहा, झूठ बोलकर सिसोदिया को बदनाम कर रहे

-दिल्ली में कोई शराब घोटाला नहीं होने का दावा किया

नई दिल्ली, 08 जुलाई: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ईडी द्वारा पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की अटैच की गई संपत्ति पर झूठ फैलाने पर भाजपा शासित केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि ईडी-सीबीआई के सहारे प्रधानमंत्री आम आदमी पार्टी की सरकार के काम में अड़ंगा लगा रहे हैं।

त्यागराज स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में पत्रकारों के सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोई शराब घोटाला नहीं हुआ है। आम आदमी पार्टी वाली दिल्ली सरकार शानदार काम कर रही है। यही वजह है कि झूठी खबरें फैलाई जा रही हैं। शुक्रवार शाम खबर फैलाई कि ईडी ने सिसोदिया की 52 करोड़ की संपत्ति जब्त की, जबकि जब्त की गई संपत्ति में सिर्फ दो फ्लैट और एक बैंक अकाउंट है। वह संपत्ति 2018 से पहले की है, जिसका आबकारी नीति से कोई लेना-देना नहीं है।

उन्होंने कहा कि इस संपत्ति का आयकर विभाग व चुनावी शपथ पत्र में दोनों जगह जिक्र किया गया है। इसका तथाकथित शराब मामले से कोई लेना-देना नहीं है। हम बीते एक साल से कह रहे हैं कि आबकारी नीति में कोई भी घोटाला नहीं हुआ है। केंद्र का एक ही मकसद है कि ईडी-सीबीआई और पुलिस की मदद से किसी भी तरह दिल्ली सरकार के कामों को रोक जाए।

अध्यादेश पर कांग्रेस के रुख का इंतजार

बैंगलुरू में होने वाली गैर भाजपा राजनीतिक दलों की बैठक में शामिल होने के सवाल पर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमें कांग्रेस के रुख का इंतजार है। विपक्षी दलों की अगली बैठक में शामिल होने के लिए हमारे पास निमंत्रण आया है। पिछली बार जब पटना में बैठक हुई थी, तब कांग्रेस ने कहा था कि संसद सत्र शुरू होने से 15 दिन पहले सार्वजनिक तौर पर घोषणा कर देगी कि वो इस अध्यादेश के खिलाफ है। संसद में अध्यादेश के खिलाफ वोट डालेंगे। हम कांग्रेस की घोषणा का इंतजार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top