Headline
भोजपुरी अभिनेता पवन सिंह की मां ने भी काराकाट से भरा नामांकन
जानें ग्वालियर रियासत की राजमाता को: नेपाल राजघराने से था ताल्लुक, शादी के बाद किरण से बनीं माधवी राजे सिंधिया
ग्वालियर राजघराने की राजमाता माधवी का निधन, सीएम समेत अन्य नेताओं ने जताया दुख
अमीर और गरीब की लड़ाई है मौजूदा लोकसभा चुनाव : खड़गे
उच्चतम न्यायालय ने न्यूज़क्लिक प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ्तारी को अवैध करार दिया, अविलंब रिहा करने का आदेश
दिल्ली हाई कोर्ट ने सिसोदिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को दी अंबानी-अडाणी के यहां ईडी-सीबीआई को भेजने की चुनौती
मोदी के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान की पोल खोलेगी ‘आप’ : गोपाल राय
भारी मतदान के जरिये लोगों ने दिल्ली को दिया संदेश: महबूबा

इसरो ने शुरू की चंद्रयान-3 के प्रक्षेपण की तैयारी

चेन्नई, 11 जुलाई: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से 14 जुलाई को अपराह्न 2.35 बजे प्रक्षेपित होने वाले चंद्रयान 3 के प्रक्षेपण की तैयारियां शुरू कर दी है।

इसरो ने मंगलवार को बताया कि भारत का तीसरा चंद्र अंवेषण मिशन चंद्रयान 3 एलवीएम3 लॉन्चर के चौथी प्रक्रिया मिशन (एम4) के तहत प्रक्षेपित होने के लिए तैयार है। एलवीएम3 इसरो का भारी वाहन है और इसने लगतार छह अभियान को सफलता पूर्वक पूरा किया है।

इसरो के मुताबिक एलवीएम3 की चौथी प्रक्रिया फ्लाइट चंद्रयान 3 अंतरिक्ष यान को जियो ट्रांफर ऑर्बिट में भेजेगी।

इसरो चंद्रयान 3 को प्रक्षेपित करने के लिए सबसे भारी रॉकेट लॉन्च मिशन एमके-3 (एलवीएम3-एम4) का उपयोग करेगा, जो 170 गुणा 36500 किलोमीटर के एकीकृत मॉडल एलिप्टिक पार्किग ऑर्बिट (ईपीओ) का स्थान लेगा। तैंतालीस दशमलव पांच मीटर ऊंचा यह रॉकेट 642 टन वजन के साथ सेकेंड लॉन्च पैड पर उतरेगा।

चंद्रयान के प्रक्षेपण की उल्टी गिनती प्रक्षेपण प्राधिकरण बोर्ड (लैब) से अनुमति मिलने के बाद गुरुवार को शुरू होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top