Headline
भोजपुरी अभिनेता पवन सिंह की मां ने भी काराकाट से भरा नामांकन
जानें ग्वालियर रियासत की राजमाता को: नेपाल राजघराने से था ताल्लुक, शादी के बाद किरण से बनीं माधवी राजे सिंधिया
ग्वालियर राजघराने की राजमाता माधवी का निधन, सीएम समेत अन्य नेताओं ने जताया दुख
अमीर और गरीब की लड़ाई है मौजूदा लोकसभा चुनाव : खड़गे
उच्चतम न्यायालय ने न्यूज़क्लिक प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ्तारी को अवैध करार दिया, अविलंब रिहा करने का आदेश
दिल्ली हाई कोर्ट ने सिसोदिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को दी अंबानी-अडाणी के यहां ईडी-सीबीआई को भेजने की चुनौती
मोदी के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान की पोल खोलेगी ‘आप’ : गोपाल राय
भारी मतदान के जरिये लोगों ने दिल्ली को दिया संदेश: महबूबा

इंडोसोल सोलर का मॉड्यूल परियोजना के पहले चरण को 2025 तक पूरा करने का लक्ष्य

नई दिल्ली, 04 अप्रैल : इंडोसोल सोलर का लक्ष्य आंध्र प्रदेश में अपनी एकीकृत सौर मॉड्यूल परियोजना के पहले चरण को 2025 तक पूरा करना है।

इंडोसोल सोलर की प्रमुख कंपनी एसएसईएल समूह के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) शरत चंद्रा ने कहा कि पहले चरण के तहत, इंडोसोल सोलर आंध्र में रामायपट्टनम बंदरगाह के पास नेल्लोर में आगामी संयंत्र में पांच गीगावाट (जीडब्ल्यू) मॉड्यूल, पांच गीगावॉट वेफर्स, पांच गीगावॉट इंगोट और पांच गीगावॉट ग्लास क्षमता स्थापित करने के लिए 15,000 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है।

चंद्रा ने पहले चरण की समयसीमा पर कहा कि यह 2025 तक पूरा हो जाएगा। यह परियोजना सौर क्षेत्र के वास्ते भारत सरकार की उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना का हिस्सा है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने पहले ही 31 मार्च से मॉड्यूल का उत्पादन शुरू कर दिया है। हम इसे चरण ‘1ए’ कहते हैं, जो पहले चरण का हिस्सा है। शुरुआत में हमने 1,300 करोड़ रुपये का निवेश करके 500 मेगावाट मॉड्यूल का निर्माण शुरू किया।’’ चंद्रा ने कहा कि पूरी परियोजना के 2028 तक पूरी होने की उम्मीद है। इसका लक्ष्य रोजगार के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष 32,000 अवसर उत्पन्न करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top