Headline
भोजपुरी अभिनेता पवन सिंह की मां ने भी काराकाट से भरा नामांकन
जानें ग्वालियर रियासत की राजमाता को: नेपाल राजघराने से था ताल्लुक, शादी के बाद किरण से बनीं माधवी राजे सिंधिया
ग्वालियर राजघराने की राजमाता माधवी का निधन, सीएम समेत अन्य नेताओं ने जताया दुख
अमीर और गरीब की लड़ाई है मौजूदा लोकसभा चुनाव : खड़गे
उच्चतम न्यायालय ने न्यूज़क्लिक प्रधान संपादक प्रबीर पुरकायस्थ की गिरफ्तारी को अवैध करार दिया, अविलंब रिहा करने का आदेश
दिल्ली हाई कोर्ट ने सिसोदिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
कन्हैया कुमार ने पीएम मोदी को दी अंबानी-अडाणी के यहां ईडी-सीबीआई को भेजने की चुनौती
मोदी के भ्रष्टाचार विरोधी अभियान की पोल खोलेगी ‘आप’ : गोपाल राय
भारी मतदान के जरिये लोगों ने दिल्ली को दिया संदेश: महबूबा

राष्ट्रीय जल पुरस्कार : जल संरक्षण के लिए मध्य प्रदेश को मिला सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार

-उप राष्ट्रपति ने किया सम्मानित, मुख्यमंत्री शिवराज ने प्रदेशवासियों को दी बधाई

भोपाल/नई दिल्ली, 17 जून: स्वच्छता में अपना परचम लहराने के बाद मध्य प्रदेश जल संरक्षण में भी एक बार फिर देश में नंबर एक आया है। श्रेष्ठ जल संरक्षण, प्रबंधन एवं उपयोग के लिए मध्य प्रदेश को राष्ट्रीय जल पुरस्कार 2022 का प्रथम पुरस्कार मिला है। केंद्रीय जलशक्ति मंत्रालय द्वारा शनिवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित चतुर्थ राष्ट्रीय जल पुरस्कार 2022 समारोह में उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने मध्य प्रदेश को जल संवर्धन और जल के बेहतर प्रबंधन के लिए देश में प्रथम स्थान से सम्मानित किया। यह पुरस्कार प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने प्राप्त किया।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस उपलब्धि पर प्रदेशवासियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा कि मध्य प्रदेश को श्रेष्ठ जल संरक्षण, प्रबंधन एवं उपयोग के लिए जलशक्ति मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय जल पुरस्कार 2022 का प्रथम पुरस्कार का सम्मान उप राष्ट्रपति के कर कमलों से प्राप्त होने पर सभी प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई। यह सम्मान प्रत्येक प्रदेशवासी के लिए गर्व का विषय है। ऐसे प्रयासों से न केवल हमारी धरती बचेगी, बल्कि इस धरा पर जीवन भी समृद्ध होगा।

जल शक्ति मंत्रालय के जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण विभाग (डीओडबल्यूआर, आरडी एंड जीआर) द्वारा शनिवार को नई दिल्ली में विज्ञान भवन के प्लेनरी हॉल में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में उप राष्ट्रपति द्वारा चौथे राष्ट्रीय जल पुरस्कार वितरित किए गए। इस मौके पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत और जलशक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल भी मौजूद रहे।

समारोह में अलग-अलग श्रेणियों में चौथा राष्ट्रीय जल पुरस्कार दिया गया। इसमें जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण विभाग ने 11 श्रेणियों को शामिल किया गया था। इसमें चौथे राष्ट्रीय जल पुरस्कार के लिए संयुक्त विजेताओं सहित कुल 41 विजेताओं को प्रशस्ति पत्र और ट्रॉफी के साथ-साथ कुछ श्रेणियों में नकद पुरस्कार दिया गया। जल संरक्षण के लिए सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार मध्य प्रदेश को दिया गया। इसके बाद ओडिशा को दूसरा स्थान मिला, जबकि तीसरे स्थान पर आंध्र प्रदेश और बिहार को संयुक्त रूप से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top