Headline
दिल्ली आबकारी नीति घोटाला : बीआरएस नेता के कविता ने दिल्ली की अदालत से जमानत मांगी
टुकड़े-टुकड़े गैंग का नेतृत्व करने वाले लोग दिल्ली वालों के प्रति कितने जिम्मेदार होंगे- मनोज तिवारी
आप नेताओं को जेल भेजने से उनका मनोबल और मजबूत हुआ : संजय सिंह
केजरीवाल की याचिका पर ईडी को नोटिस, सुप्रीम कोर्ट 29 को करेगा अगली सुनवाई
मणिपुर के मुख्यमंत्री को क्यों बर्खास्त नहीं किया गया : कांग्रेस
पीएम मोदी का राहुल पर तंज कहा- यूपी में खानदानी सीट बचाना मुश्किल हुआ तो केरल में बनाया नया ठिकाना
सतुआन पर सुलतान पोखर में दर्जनों बच्चों का हुआ मुंडन संस्कार
‘भाजपा के घोषणा पत्र में महंगाई, बेरोजगारी और गरीबी को हटाने का जिक्र नहीं’, तेजस्वी यादव का दावा
रीवा में 44 घंटे तक रेस्क्यू के बाद भी बोरवेल में गिरे मासूम की नहीं बच पाई जान

भारत के इतिहास में तेलंगाना का योगदान बहुत महत्वपूर्ण : मोदी

वारंगल, 08 जुलाई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि भले ही तेलंगाना अपेक्षाकृत एक नया राज्य है और इसने अपने अस्तित्व के केवल नौ वर्ष पूरे किए हैं, भारत के इतिहास में राज्य तथा इसके लोगों का योगदान बहुत महत्वपूर्ण रहा है।

श्री मोदी ने तेलंगाना के वारंगल में लगभग 6,100 करोड़ रुपये की कई महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखने के बाद सभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने कहा,“तेलुगु लोगों की क्षमताओं ने हमेशा भारत की क्षमताओं को बढ़ाया है।”

प्रधानमंत्री ने जिन विकास योजनाओं की आधारशिला रखी उनमें 5,550 करोड़ रुपये से अधिक की 176 किलोमीटर लंबी राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाएं और 500 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से काजीपेट में विकसित की जाने वाली रेलवे विनिर्माण इकाई शामिल है। इससे पहले श्री मोदी ने भद्रकाली मंदिर में दर्शन और पूजा की।

प्रधानमंत्री ने भारत को दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने में तेलंगाना के नागरिकों की महत्वपूर्ण भूमिका पर प्रकाश डाला और अवसरों में वृद्धि पर विश्वास व्यक्त किया क्योंकि दुनिया भारत को एक निवेश गंतव्य के रूप में देख रही है। उन्होंने कहा, “विकसित भारत को लेकर काफी उम्मीदें हैं।”

उन्होंने कहा,“आज का नया युवा भारत ऊर्जा से भरपूर है।” उन्होंने 21वीं सदी के तीसरे दशक में एक स्वर्णिम काल के आगमन को स्वीकार किया और सभी से इस अवधि का पूरा उपयोग करने की अपील की। इस बात पर जोर देते हुए कि तेज गति से विकास के मामले में भारत का कोई भी हिस्सा पीछे नहीं रहना चाहिए, उन्होंने पिछले नौ वर्षों में तेलंगाना के बुनियादी ढांचे और कनेक्टिविटी में सुधार पर जोर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top