Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

भाजपा ही कर सकती हैं देश का उत्थान : वसुंधरा राजे सिंधिया

दुमका, 15 जून: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया ने झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि जिस राज्य के मुख्यमंत्री अपने लिए खदान आवंटित करते हों उस राज्य के गरीबों का उत्थान कभी सम्भव नहीं है।

श्रीमती सिंधिया ने दुमका लोकसभा क्षेत्र के झामुमो का गढ़ रहे जामा विधानसभा क्षेत्र में आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में महज नौ वर्ष के कार्यकाल में हिन्दुस्तान दुनिया में तेज गति से विकसित होने वाला राष्ट्र बन गया है जो देश वासियों के लिए गौरव की बात है। पूरे विश्व में भारत की इज्जत बढ़ी है।

भाजपा नेता ने झारखंड सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा महज नौ साल में गरीब, आदिवासियों और महिलाओं के साथ युवाओं का उत्थान कर भारत को विकसित देश के श्रेणी में खड़ा कर दिखाया है जो समूचे देश के लिए गौरव की बात है। वहीं, पिछले 40 वर्षों से इस क्षेत्र में शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन परिवार का राज कायम है फिर भी खनिज संपदा सम्पन्न इस इलाके का विकास अपेक्षित विकास नहीं हो सका, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। जबकि इतने लम्बे कार्यकाल में इस इलाके को स्वर्ग बनाया जा सकता था।

श्रीमती सिंधिया ने कहा कि जब राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ही अपने लिए खदान आवंटित करा ले तो उस राज्य में गरीब आदिवासियों का कल्याण कैसे सम्भव होगा। जबकि किसी जनप्रतिनिधि को आम गरीब आदिवासियों के उत्थान का ख्याल रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल जी के कार्यकाल में यहां के गरीब आदिवासियों को यहां की संपदा का लाभ मिले और उनका अपेक्षित उत्थान हो इस सोच के साथ झारखंड, उत्तराखंड और छत्तीसगढ़ समेत तीन राज्य बनाये गये थे लेकिन जिस राज्य के मुख्यमंत्री ही अपने लिए खदान ले ले उस राज्य के गरीबों का उत्थान कैसे सम्भव होगा।

भाजपा नेता ने कहा कि राज्य में ऐसी व्यवस्था बन गयी है कि झारखंड के अधिकारी भी यहां के लोगों की जमीन सुरक्षित नहीं कर सकते हैं। उन्होंने केन्द्र की भाजपा सरकार द्वारा नौ साल के दौरान समूचे देश में शिक्षा, स्वास्थ्य,सड़क, शौचालय,हवाई सेवा रेल सुविधा का विस्तार सहित विभिन्न मामलों में उल्लेखनीय कार्य किये जाने पर विस्तार से चर्चा की। उन्होंने दावा किया कि भाजपा की सरकार ही सभी वर्ग के हितों के लिए कार्य कर सकती है जबकि कांग्रेस और झामुमो से मुश्किलें ही बढ़ेगी।

श्रीमती सिंधिया ने कहा कि भाजपा ने युवाओं को रोजगार मांगने वाला नहीं। रोजगार देने वाला बनाने की दिशा में कदम बढ़ाया जिसका लाभ अब दिख रहा है। इससे युवा स्वयं रोजगार सृजन कर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में जुटे हैं। उन्होंने आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में भाजपा के पक्ष में बटन दबाने का संकल्प लेने आह्वान किया जिससे विकास की तेज गति जारी रहे। सभा में दुमका के भाजपा सांसद सुनील सोरेन,सारठ के विधायक रणधीर सिंह, पूर्व कल्याण मंत्री डाक्टर लुईस मरांडी, भाजपा प्रदेश कमेटी के वरिष्ठ नेता राकेश प्रसाद सहित कई प्रमुख नेताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top