Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

प्रधानमंत्री ने वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का किया उद्घाटन

गांधीनगर, 10 जनवरी: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को गुजरात के गांधीनगर स्थित महात्मा मंदिर में 10वें वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल सबमिट का उद्घाटन किया। इस मौके पर यूएई के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान, मोजाम्बिक के राष्ट्रपति फिलिप जैसिंटो न्यूसी, तिमोर-लेस्ते के राष्ट्रपति जोस रामोस होर्टा, गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल, केंद्रीय मंत्री और उद्यमी मुकेश अंबानी, गौतम अदाणी समेत कई प्रमुख लोग मौजूद रहे।

तीन दिवसीय समिट के दौरान कुल 55 सेमिनार के लिए 12 सेमिनार हॉल की व्यवस्था की गई है। इनमें अस्थायी सेमिनार हॉल की क्षमता आवश्यकता के अनुसार 100, 150 व 250 व्यक्तियों की है। समिट के समानांतर आयोजित होने वाली बी2जी तथा बी2बी मीटिंग के लिए लाउंज तथा मीटिंग रूम सहित कई प्रबंध किए गए हैं। गुजरात सरकार एवं केंद्र सरकार के 40 से अधिक विभाग इन बैठकों में भाग लेने वाले हैं। अब तक बी2जी तथा बी2बी मीट के लिए 2500 से अधिक मीटिंग पंजीकृत की गई हैं। इस बार पहली बार महात्मा मंदिर के कन्वेंशन हॉल में एनामॉर्फिक प्रोजेक्शन सुविधा का उपयोग किया गया है।

पहली बार प्रतिष्ठित सीईओ तथा औद्योगिक अग्रणियों के साथ विशेष संवाद के लिए दो स्टूडियों की सुविधा स्थापित की गई है। इस बार प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री के लाउंज के साथ 34 कंट्री लाउंज भी स्थापित किए गए हैं।

इसके अतिरिक्त समिट के दिनों के दौरान गुजरात की संस्कृति को प्रदर्शित किए जा सके; इसके लिए भी समिट स्थल पर तैयारियां की गई हैं। इसमें गुजरात की संस्कृति तथा इतिहास को प्रदर्शित करने वाले 23 वेलकम आर्चीज, सेल्फी पॉइंट के रूप में कच्छ के मिरर मड पैनल्स लगाए गए हैं। इसके साथ ही समिट में पधारे अतिथि गुजरात की हस्तकला वस्तुएं खरीद सकें। इसके लिए गुजरात क्राफ्ट तथा हैंडलूम डिसप्ले स्टॉल्स भी कार्यक्रम स्थल पर लगाए गए हैं।

वाइब्रेंट गुजरात समिट स्थल पर लोगों तथा वाहनों के आवागमन को सरल बनाने के लिए इस बार एक नया गेट जोड़ा गया है। इसके साथ कुल 8 गेट की व्यवस्था की गई है। एम्फीथियेटर में सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए नैचुरल डाई लैम्प का उपयोग किया गया है। इसके साथ ही; कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न स्थानों पर इल्युमिनेशन आर्ट वर्क यानी रोशनीयुक्त कलाकृतियाँ रखी गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top