Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

प्रधानमंत्री की अपील पर देशभर में लोगों ने एक घंटे के श्रमदान अभियान में हिस्सा लिया

नई दिल्ली, 01 अक्टूबर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की राष्ट्रव्यापी स्वच्छता अभियान की अपील पर नेताओं से लेकर छात्रों तक, सभी क्षेत्रों के लोगों ने रविवार को एक घंटे के श्रमदान में हिस्सा लिया। केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के अनुसार, इस अभियान के तहत देशभर में 9.20 लाख से अधिक स्थानों पर स्वच्छता कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।

आकाशवाणी के मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ की पिछली कड़ी में मोदी ने सभी नागरिकों से एक अक्टूबर को ‘स्वच्छता के लिए एक घंटे का श्रमदान’ करने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि महात्मा गांधी की जयंती की पूर्व संध्या पर यह ‘स्वच्छांजलि’ होगी।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झाड़ू लेकर अहमदाबाद में स्वच्छता अभियान में हिस्सा लिया। वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा दिल्ली के झंडेवालान इलाके में इस अभियान में शामिल हुए।

श्रमदान में हिस्सा लेते हुए केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ”हमने (केंद्र) देश को स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया है। यह एक बड़ी चुनौती है, लेकिन हम इसे करेंगे।”

देशभर में केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा नेताओं ने झाड़ू उठाकर ‘स्वच्छता ही सेवा’ अभियान में हिस्सा लिया।

गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने अहमदाबाद में स्वच्छता अभियान में भाग लिया। भाजपा सांसद दिनेश शर्मा ने भी एक स्वच्छ अभियान में हिस्सा लिया और कहा कि ‘स्वच्छता’ देश का चेहरा बन गई है।

भारतीय वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी आर चौधरी नई दिल्ली में स्वच्छता गतिविधि के लिए स्वेच्छा से शामिल हुए।

दिल्ली नगर निगम ने कहा कि उसने राष्ट्रीय राजधानी में 500 स्थानों पर सफाई अभियान चलाया।

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने लोगों से इस अभियान में शामिल होने का आग्रह करते हुए ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ”आइए, एक नया इतिहास बनाएं! आज सुबह 10 बजे। आइए एक घंटे के लिए स्वयंसेवक बनें, स्वच्छता के माध्यम से महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दें। शामिल होने के लिए स्थानीय स्वच्छता कार्यक्रमों को स्कैन करें या देखें। कूड़ा मुक्त भारत का सपना, हम सब मिलकर पूरा करेंगे।”

विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे क्रिकेट खिलाड़ियों ने भी लोगों से ‘एक तारीख, एक घंटा, एक साथ’ के लिए साथ आने और स्वच्छता के प्रति संकल्प को मजबूत करने के लिए सबसे बड़े नागरिक नेतृत्व वाले आंदोलन में शामिल होने की अपील की।

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा, ”हम उम्मीद करते हैं कि लोग स्वच्छ भारत मिशन से जुड़े रहेंगे, जिसे प्रधानमंत्री मोदी ने लॉन्च किया था।”

लखनऊ में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ में हिस्सा लेने वाले उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि प्रधानमंत्री की अपील पर देशभर में इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने सभी से इस अभियान में हिस्सा लेने की अपील की।

केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने कहा कि गैर-सरकारी संगठनों, बाजार संघों, स्वयं सहायता समूहों, धार्मिक समूहों, व्यापार निकायों और निजी क्षेत्र की कंपनियों ने 22,000 से अधिक बाजार क्षेत्रों, 10,000 जल निकायों, 7,000 बस स्टैंड/टोल प्लाजा, 1,000 गौशालाओं, 300 चिड़ियाघरों और वन्यजीव क्षेत्रों तथा ग्रामीण एवं शहरी इलाकों में विभिन्न स्थानों पर स्वेच्छा से ‘श्रमदान’ किया।

राज्यों में उत्तर प्रदेश ने स्वच्छता अभियान के लिए एक लाख से अधिक स्थलों को चुना, जबकि महाराष्ट्र ने समुद्र तटों, धार्मिक स्थानों, स्कूल, कॉलेज और जल निकायों सहित 62,000 से अधिक स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित किया।

तेलंगाना में इस अभियान के दौरान ऐतिहासिक महत्व के मंदिरों में सफाई की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top