Headline
बिहार के सीवान जिले में गंडक नहर पर बना 30 फीट लंबा पुल गिरा
बिहार की आर्थिक अपराध इकाई ने केंद्र को सौंपी नीट पेपर लीक मामले की रिपोर्ट
मुख्यमंत्री ने दो दिवसीय आम महोत्सव-2024 का किया उद्घाटन
भारत-बंगलादेश गंगा जल संधि की समीक्षा करेंगे, बंग्लादेशी नागरिकों को इलाज के लिए ई-वीजा मिलेगा
जल संकट को लेकर आतिशी का अनिश्चितकालीन अनशन दूसरे दिन भी जारी
एंटी पेपर लीक कानून लागू, आधी रात को नोटिफिकेशन, 10 साल जेल, 1 करोड़ का जुर्माना
हसीना का राष्ट्रपति भवन में औपचारिक स्वागत
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर डीयू में एक हजार लोगों ने किया सामूहिक योगाभ्यास
दिल्ली जल संकट: हरियाणा से अधिक पानी की मांग के लिए आतिशी ने शुरू की भूख हड़ताल

नवीन पटनायक से मिले सीएम नीतीश कुमार, पटनायक बोले गठबंधन पर चर्चा नहीं

भुवनेश्वर, 09 मई : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को ओडिशा सीएम नवीन पटनायक से उनके आवास पर मुलाकात की। दोनों मुख्यमंत्रियों ने साथ में लंच किया। हालांकि, गठबंधन बनाने के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई।

नवीन पटनायक ने कहा, मुझे खुशी है कि नीतीश जी यहां भुवनेश्वर आए। हम पुराने दोस्त और सहकर्मी हैं। हमने वाजपेयी सरकार के साथ मिलकर काम किया है। हम बिहार के पर्यटकों के लिए पुरी में जमीन के आवंटन पर चर्चा कर रहे थे।

ओडिशा के मुख्यमंत्री ने कहा कि भगवान जगन्नाथ के मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले बिहार के पर्यटकों और तीर्थयात्रियों के लिए पुरी में बिहार सरकार को 1.5 एकड़ जमीन मुफ्त दी जाएगी।

भाजपा विरोधी दलों के संभावित गठबंधन में बीजद के शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने स्पष्ट किया, आज किसी भी गठबंधन के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई।

नीतीश कुमार ने कहा कि नवीन पटनायक और उनके पिता बीजू पटनायक से उनके पुराने संबंध हैं।

बिहार के सीएम ने कहा, मैं अक्सर नवीन जी से मिलता रहता हूं। हालांकि, कोविड-19 महामारी के कारण, मैं उनसे नहीं मिल पा रहा था। इसलिए, मैं उनसे मिलना चाहता था।

यह पूछे जाने पर कि क्या दोनों शीर्ष नेताओं के बीच कोई राजनीतिक चर्चा हुई, मुस्कुराते हुए जदयू नेता ने जवाब दिया, राजनीतिक बातों के बारे में चिंता न करें। हमारे बीच इतना मजबूत रिश्ता है, राजनीति के बारे में सोचने की जरूरत नहीं है।

डॉन से नेता बने आनंद मोहन सिंह की रिहाई पर मीडिया के सवाल का जवाब देते हुए नीतीश कुमार ने कहा, अगर किसी को दोषी ठहराया जाता है और फिर उसे कठोर कारावास मिलता है। उसके बाद उसे जेल से रिहा कर दिया गया। 2016 के केंद्रीय नियम के बाद यह पूरे देश में हो रहा है।

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने इसी साल मार्च में नवीन पटनायक से मुलाकात की थी। उस दौरान भी दोनों नेताओं ने तीसरे मोर्चे या किसी गठबंधन पर किसी तरह की चर्चा से इनकार किया था हालांकि, उन्होंने भारत में संघीय ढांचे को मजबूत करने की वकालत की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top