Headline
हिप्र संकट पर जयराम रमेश का तंज, कहा- मोदी की गारंटी है कांग्रेस की सरकारों को गिराओ
रेलवे जमीन के बदले नौकरी मामला : दिल्ली की अदालत ने राबड़ी देवी और उनकी दो बेटियों को दी जमानत
उप्र का ‘रामराज्य’ दलित,पिछड़े, महिला,आदिवासियों के लिए है ‘मनुराज’ : कांग्रेस
प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर दी वैज्ञानिक समुदाय को बधाई
तमिलनाडु : औद्योगिक विकास के लिए प्रधानमंत्री का बड़ा प्रोत्साहन, शुरू की विभिन्न परियोजनाएं
वर्ष 2030 तक दुनिया में हम तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने वाले हैं : राष्ट्रपति मुर्मू
बिट्टु कुमार सिंह को मिला केंद्रीय विश्वविद्यालय से जनसंचार में स्नातकोत्तर की डिग्री
चंडीगढ़ महापौर चुनाव में ‘आप’ की जीत का बदला लेना चाहती है भाजपा: आतिशी
ईवीएम के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के कई नेता गिरफ्तार

नगालैंड के लोगों को स्वयं को देश के अन्य सभी लोगों के बराबर महसूस करना चाहिए : राहुल गांधी

कोहिमा, 16 जनवरी: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा कि नगालैंड के लोग भले ही एक ”छोटे राज्य” के रहने वाले हैं लेकिन उन्हें स्वयं को देश के अन्य लोगों के बराबर ही महसूस करना चाहिए।

गांधी ने ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ के तहत नगालैंड की राजधानी कोहिमा में आयोजित रैली में कहा कि इस मार्च का मकसद ”लोगों को न्याय देना” और ”राजनीति, समाज और आर्थिक ढांचे को सभी के लिए अधिक समान और सुलभ बनाना है।

गांधी ने कोहिमा युद्ध कब्रिस्तान का दौरा किया और उन लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित की जिन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान कर्तव्य का पालन करते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया।

गांधी ने कहा, ”इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपका राज्य छोटा है, आपको स्वयं को देश के अन्य सभी लोगों के समान महसूस करना चाहिए। यही तो ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ की अवधारणा है।”

गांधी ने कहा, ”इसका मकसद लोगों को न्याय दिलाना और राजनीति, समाज एवं ढांचे को सभी के लिए अधिक समान और सुलभ बनाना है।”

गांधी ने 14 जनवरी को मणिपुर से ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ शुरू की थी। वह सोमवार शाम नगालैंड पहुंचे।

उन्होंने ‘हाई स्कूल जंक्शन’ में एक अन्य रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने पहले ”विभिन्न संस्कृतियों, धर्मों और भाषाओं को एक साथ लाने” के विचार के साथ दक्षिण भारत से कश्मीर तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ निकाली थी।

उन्होंने कहा कि इस बार पार्टी ने पूर्वोत्तर से एक और यात्रा शुरू करने का फैसला किया क्योंकि यह क्षेत्र ”भारत की अवधारणा के लिए बहुत अहम” है।

उन्होंने कहा, ”हमने मणिपुर से शुरुआत की और हम अब नगालैंड पार कर रहे हैं। यह एक बढ़िया अनुभव है। आप सभी के स्नेह के लिए धन्यवाद। जय हिंद।”

यात्रा जब राज्य की राजधानी से गुजरी, तो महिलाओं और बच्चों सहित सैकड़ों लोगों ने उनका स्वागत किया।

‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ 100 लोकसभा क्षेत्रों से होकर गुजरेगी। इस यात्रा के दौरान 6,713 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। ज्यादातर यात्रा बस से होगी, लेकिन कहीं-कहीं पदयात्रा भी होगी। यात्रा का समापन महाराष्ट्र के मुंबई में होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top